भारत का ये जांबाज जवान उड़ाकर लाया राफेल, जानिये कौन है ये

आपको मालूम तो होगा ही कि भारत में राफेल आ गया है लेकिन लेकर कौन आया? हम आपको उसी महान शख्स से आपको आज रूबरू करवाने जा रहे है. ये है मनीष सिंह. आपको बता दें कि कि मनीष सिंह बलिया के एक छोटे से गाँव के रहने वाले हैं और देश भक्ति में लीन इनके पूरे परिवार ने अपना जीवन देश की रक्षा में दे दिया है और देशहित के लिए वे फौजी बन गए। दरअसल खुशी की बात यह है कि जब उनके गांव के लोगों को सोशल मीडिया और न्यूज़ चैनलों द्वारा पता चला कि विंग कमांडर मनीष सिंह फ्रांस से राफेल उड़ा कर ले आने वाले है तो वहाँ के लोगों में खुशी का कोई ठिकाना नहीं रहा।

अपनी खुशी को जाहिर करने के लिए लोगों ने एक-दूसरे का मुंह मीठा किया और हर घर में थाली बजाई गई। वहां के लोगों का मानना है कि विंग कमांडर मनीष सिंह उनके लिए प्रेरणादायी है। उन्हीं की वजह से वहां के लोग देश भक्ति में लीन होकर अपने कमांडर पर गर्व करते हैं। मनीष सिंह के परिवार में उनके पिता मदन सिंह जो थल सेना में जवान है, वे अपने घर में सबसे बड़े हैं।

मनीष सिंह ने अपने गांव में कक्षा 6 तक पढ़ाई करने के बाद आगे की शिक्षा के लिए करनाल के कुंजपुरा के एक सैनिक स्कूल चले गए। अपने पिता फौजी मदन सिंह से प्रेरित होकर वे सन 2002 में भारतीय वायुसेना के पायलट बन गए। 2017-2018 में ये गोरखपुर में अपनी सेवा दे चुके है। इसके बाद जब वे अपने गांव बकवा लौटे तो उन्हें राफेल डील के बाद प्रशिक्षण के लिए अपनी टीम के साथ फ्रांस भेज दिया गया।

भारतीय वायु सेना में इतना आगे बढ़ने के बाद उन्होंने देश को राफेल देकर अपने गांव का नाम पूरे देश में रोशन कर दिया जो कि वहां वहां के लोगों के लिए बहुत ही बड़ी बात है और पूरे देशवासियों के लिए गौरव की बात है।

Facebook Comments