इस मंदिर में प्रसाद में मिठाई नही मिलती, मिलते है सोना चांदी रूपया और गहने

वैसे आम तौर पर जब भी आप मंदिर में जाते है तो आपको वहां पर प्रसाद के रूप में क्या मिलता है? आप प्रसाद के रूप में वहां पर गंगाजल, चरणामृत या फिर मिठाई आदि लेते है और उसका सेवन कर लेते है. लगभग हर मंदिर में यही सिस्टम बना हुआ है कही पर भी कुछ भी अलग नही होता है लेकिन अगर हम बात करे एक ख़ास मंदिर की तो वहाँ पर इन सबसे हटकर के कुछ होता है और ये शायद आपके दिमाग को एक बार के लिए रास भी न आये क्योंकि यहाँ पर मिलने वाला प्रसाद काफी महंगा है.

ये मंदिर है रतलाम शहर के माणक चौक में और मंदिर का नाम है महालक्ष्मी मंदिर. ये मंदिर अभी का नही बल्कि कई सदियों पुराना है और यहाँ पर प्रसाद के रूप में मिठाई नही बल्कि सोना चांदी और गहने जैसी महँगी चीजे वितरित की जाती है और इसके पीछे भी ख़ास कारण है.

यही के एक राजा ने यहाँ पर ये प्रथा दिवाली को लेकर के शुरू की थी जब इस दिन लोग अपने अपने घरो से यहाँ के लिए रूपया पैसा, गहने और सोने चांदी के सिक्के आदि लेकर के आते है और माँ महालक्ष्मी के चरणों में चढ़ा देते है. ऐसा करने के बाद में यही पूजा के बाद में जो चढ़ावा आया है वो महिलाओं को कुबेर पोटली के रूप में दिया जाता है जिसमे किसी को सोने के सिक्के मिलते है किसी को नोट मिलते है तो किसी को गहना भी मिलता है.

इस वजह से ही आप देखेंगे कि जब भी दीपोत्सव का पर्व मन रहा होता है तब इस मंदिर के आस पास में काफी अधिक भीड़ हो जाती है और लोग इस पर बहुत ही अधिक एक तरह से आप कह सकते है कि गर्व महसूस करते है कि कुछ है जो बहुत ही ख़ास और यूनिक है.

Facebook Comments