पूरे एक साल से बिना पानी के रह रही ये महिला, हुआ ऐसा फायदा जो चौंकाने वाला है

आजकल का समय कुछ ऐसा है कि यहाँ पर लोग पाश्चात्य संस्कृति की तरफ कुछ ज्यादा ही बढ़ रहे है और अपनी चीजो को भूलते जा रहे है जबकि यही हमारी सबसे बड़ी गलती है इस बात में कोई शंका नही है. अभी हाल ही में एक ऐसा केस सुनने में आया है जो आपकी इसमें श्रद्धा एक बार फिर से जगा देगा. ये एक महिला है जिसका नाम है सोफी पार्टिक और सोफी 35 साल की है जो पेशे से एक योगा टीचर है और इंडोनेशिया के बाली में रह रही है.

सोफी हिन्दू धर्म को फोलो करती है और उसके अनुसार अपनी जीवन पद्धति को भी बना रही है. यही नही सोफी ड्राई फास्टिंग करती है और इसका कांसेप्ट भी काफी पुराना है जिसमे लोग पानी नही पीते है. अब आप कहेंगे कि बिना पानी के भला कोई जीवित कैसे रह सकता है?

View this post on Instagram

Das reine Kokoswasser stammt aus den jungen, noch grünen Kokosnüssen und ist reich an Elektrolyten, Kalium und Antioxidantien. Diese Inhaltsstoffe sind richtig gut für den menschlichen Körper und somit stellt Kokoswasser herkömmliche Sportgetränke und ‚normales’ Wasser den Schatten. Für diejenigen unter euch, die mit Akne oder anderen Hautunreinheiten zu kämpfen haben: Ihr solltet die Eigenschaften der tropischen Frucht nutzen. Als Gesichtswasser klärt Kokoswasser die Haut und versorgt sie zusätzlich mit Feuchtigkeit. Egal, ob du das Kokoswasser trinkst oder äußerlich anwendest dein Darm & deine Haut werden es dir danken. •••• Despite its recent explosion in popularity, coconut water has been consumed for centuries in tropical regions around the world. In traditional Ayurvedic medicine, coconut water is believed to help digestion, urination, and even semen production. It has also traditionally been used to treat dehydration and given as ceremonial gifts throughout the tropics. Coconut water is extremely hydrating and remineralizing for skin and colon. Coconut water is a natural acid sterile solution, rich in essential aminoacids, sugars, vitamins, minerals and salts. #dryfasting#hydration#healthylifestyle#healthyliving#livingwater#veganfit#veganfitgirl#balilife#coconutwater#weightlossjourney#weightlosstransformation#healthyeating#rawveganlife

A post shared by SOPHIE PRANA (@pimpyourprana) on

तो दरअसल सोफी पीने के लिए लिक्विड जूस पर निर्भर रहती है जिसमे नारियल पानी और अलग अलग फलो के रस शामिल है जिन्हें पीकर के वो अपने शरीर में लिक्विड की जरुरतो को पूरा कर लेती है. ऐसे करते हुए सोफी को एक साल बीत गया है. सोफी बताती है कि इससे उन्हें काफी ज्यादा फायदे हुए जिनमे उन्हें जोड़ो का दर्द, आँखों की सूजन और फ़ूड एलर्जी समेत खराब त्वचा की समस्या से छुटकारा मिल गया.

यही नही इससे सोफी का पाचन भी पहले की तुलना में बेहतर हो गया और तो और किडनी भी पहले की तुलना में और अधिक बेहतर तरीके से फंक्शन करने लगी है जिससे सोफी को अच्छी खासी मदद मिलती है और वो एक स्वस्थ जीवन जी पाने में कामयाब है. हालांकि ये करने में सोफी को बहुत ही दिक्कत आती है क्योंकि इसमें कई घंटो तक लिक्वीड नही लेना होता है और जरूरत पड़ने पर ही लिया जाता है.

Facebook Comments