जब बेटे आकाश ने पूछा ‘कैलकुलेटर है तो पहाड़े क्यों याद करते है’, ये था मुकेश अम्बानी का जवाब

जब भी बात आती है पारिवारिक मूल्यों की और पैसे की एक साथ तो फिर उसमे कही न कही एक नाम हमेशा से ही आगे रहा है और वो नाम है अम्बानी परिवार का जिसे सब लोग काफी ज्यादा पसंद भी करते है और इस बात में किसी को शक भी नही है. कही न कही मुकेश अम्बानी जैसे है वैसा ही उन्होंने अपने बच्चो को भी बनाया है जिस कारण से वो अपने पिता का व्यापार संभालने में काफी अच्छे से मदद कर पा रहे है. इसकी झलक हमे उनके किस्सों में देखने को मिल जाती है जो वही लोग बताते है.

मुकेश अम्बानी ने खुद अपना और अपने बेटे आकाश का वाकया सुनाया था कि एक बार आकाश ने अपने पिता से पूछा जब हमारे पास में केल्कुलेटर है तो हम लोग टेबल क्यों याद करते है? इसके जवाब में मुकेश अम्बानी ने कहा ताकि हमें उसकी जरूरत ही न पड़े, सब हमारे दिमाग में सेट हो जाये.

बस ये बात आकाश के दिमाग में ऐसी छपी की वो हर रोज पहाड़े याद करता और याद करते हुए ही सोने के लिए जाता. आकाश की एक खूबी है कि वो हमेशा से ही अपने पिता को बहुत ही ज्यादा मानते है और उनके नक़्शे कदम पर चलने की कोशिश करते है ताकि उनके काम को वो बेहतर तरीके से संभाल सके जो कि आगे चलकर के जरूरी भी होने जा रहा है.

अम्बानी परिवार की सफलता का एक कारण ये भी है कि ये लोग इस तरह से पारिवारिक है और एक दुसरे के साथ सपोर्ट करते हुए आगे बढ़ते है और धार्मिकता में भी भरपूर विश्वास रखते है जो इनको और भी अधिक बल देता है और सबल बनाता है. ये चीजे बाकी लोगो के लिए भी एक तरह से सीखने लायक ही कही जाएगी इसमें कोई शक नही है.

Facebook Comments