चलती ट्रेन से अचानक से गिर गया यात्री, फिर ट्रेन ड्राईवर से ने जो किया उसकी हो रही तारीफ

हमें अक्सर सलाह दी जाती है कि चलती हुई ट्रेन में हमें दरवाजो से दूर रहना चाहिए और कोशिश करनी चाहिए कि अन्दर की तरफ ही बैठे क्योंकि कोई भी हादसा हो सकता है और जब हादसा होता है तो फिर बहुत ही ज्यादा तकलीफदेह होता है जो कि अभी हाल ही में जलगाव के नजदीक एक रेलवे स्टेशन से कुछ दूरी पर देखने में आया. यहाँ पर ट्रेन चल रही थी और चलती हुई ट्रेन से एक व्यक्ति गिर पड़ा और घायल हो गया.

अब घायल अवस्था में उस व्यक्ति की वहां से उठ पाने की भी हिम्मत नही थी और ट्रेन लगभग पांच सौ मीटर आगे चली गयी थी. ऐसी स्थिति में जब ट्रेन के ड्राईवर यानी लोको पायलट को इस बारे में पता चला तो फिर उन्होंने तुरंत ही ट्रेन को उलटी दिशा में चलाना शुरू कर दिया और ट्रेन को लगभग आधा किलोमीटर तक पीछे ले गये.

इसके बाद उस घायल व्यक्ति को ट्रेन के अन्दर लिया गया और फिर ट्रेन भगाकर के वो अगले रेलवे स्टेशन तक ले गये. जहाँ पर घायल व्यक्ति का इलाज करने के लिए उसे अस्पताल भेजा गया. अब उसका इलाज हुआ है और रिपोर्ट्स के मुताबिक़ वो व्यक्ति काफी ज्यादा स्वस्थ भी हो गया है. हर कोई इस मामले के बाद में लोको पायलट दिनेश कुमार की तारीफ़ कर रहा है.

केन्द्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने खुद भी दिनेश कुमार की तारीफ़ की है कि किस तरह से वो अपनी जिम्मेदारी को अच्छे से निभाते हुए नजर आये क्योंकि अगर वो ट्रेन न भी रोकते तो उनका भला क्या ही चला जाता? मगर दिनेश कुमार ने वाकई में ऐसा किया और अपने आपको साबित करके दिखा दिया जो अपने आप में गौरवान्वित करने वाला है और इसके बारे में जितनी तारीफ़ की जाए उतनी कम है. खैर जो भी है समय बाकी सब तय कर ही देता है.

Facebook Comments